Rajasthan : मोस्ट वॉन्टेड ‘पपला’ आखिरकार पकड़ा ही गया..

मोस्ट वॉन्टेड क्रिमिनल पपला गुर्जर आखिरकार आज गुरुवार को राजस्थान पुलिस ने गिरफ्तार किया।
मोस्ट वॉन्टेड क्रिमिनल पपला गुर्जर आखिरकार आज गुरुवार को राजस्थान पुलिस ने गिरफ्तार किया।

इंटरनेट डेस्क। राजस्थान का मोस्ट वॉन्टेड क्रिमिनल पपला गुर्जर आखिरकार आज गुरुवार को पुलिस के शिकंजे में आ गया है। करीब 16 महीनों से राजस्थान और हरियाणा पुलिस इसकी तलाश में थी। जयपुर रेंज पुलिस ने गुरुवार को विक्रम गुर्जर उर्फ पाला को अलवर जिले में बेहरोर पुलिस थाना इलाके से गिरफ्तार किया।

पुलिस महानिदेशक एमएल लाथर ने कहा कि पपला को गिरफ्तार कर लिया गया है। वह 16 महीनों से फरार था। उन्होंने कहा कि जल्द ही और ब्योरे का खुलासा किया जाएगा। एक ही परिवार के 4 लोगों की हत्या का आरोपी हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले के गांव खैरौली का रहने वाला पपला गुर्जर अगस्त-2017 में पुलिस पर फायरिंग कर महेंद्रगढ़ से फरार हुआ था। इसके बाद से हरियाणा पुलिस गैंगस्टर पपला की तलाश कर रही थी।

5 सितंबर 2019 की रात पपला अलवर के बहरोड़ पुलिस के हत्थे चढ़ा, लेकिन अगले ही दिन सुबह बहरोड़ थाने में एके-47 और एके-56 जैसे आधुनिक हथियारों से गोलियां बरसाकर साथी बदमाश पपला को लॉकअप से निकाल ले गए। जिसके बाद पुलिस के साथ सरकार की भी काफी किरकिरी हुई। राजस्थान के अलवर, भरतपुर, धौलपुर, सीकर, झुंझुनूं और नागौर जिलों में कई स्थानीय बदमाश पपला के गिरोह में शामिल हैं।

6 सितंबर 2019 को बेहरोर पुलिस स्टेशन के बाहर बॉलीवुड स्टाइल में तीन गाड़ियां आकर रुकी और हाथ में AK-47 लेकर 15-20 लोग करीब 40 राउंड फायरिंग करते हैं। हमलावर थाने के अंदर घुसते हैं और पापला को साथ लेकर चले जाते हैं। अपराधियों ने गनपॉइंट पर एक एसयूवी को लूटा और हरियाणा की ओर भाग गए। गैंग के अब तक 27 बदमाशों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

nextinformation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

आरोपी दीप सिद्धू की किसान नेताओं को धमकी..

Thu Jan 28 , 2021
नई दिल्ली:- लाल किले पर खालसा पंथ का झंडा लगाए जाने के लिए लोगों को भड़काने के दोषी ठहराए जा रहे पंजाबी सिंगर दीप सिद्धू ने खुद को बेगुनाह बताया है। उन्होंने बुधवार देर रात अपने फेसबुक पेज पर लाइव आकर किसान नेताओं को धमकी दी। कहा- तुमने मुझे गद्दार […]
दीप सिद्घू पर आरोप है कि लाल किले पर भीड़ को उन्हीं ने भड़काया था।