राज्यसभा में घटी राजनीतिक घटना, सदन में ही इस्तीफे की घोषणा

राज्यसभा सांसद और तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिनेश त्रिवेदी ने सदन में ही इस्तीफा देने की घोषणा कर दी।
राज्यसभा सांसद और तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिनेश त्रिवेदी ने सदन में ही इस्तीफा देने की घोषणा कर दी।

इंटरनेट डेस्क। बजट सत्र के आखिरी दिन आज शुक्रवार को राज्यसभा में बड़ी राजनीतिक घटना हुई है। राज्यसभा सांसद और तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिनेश त्रिवेदी ने सदन में ही इस्तीफा देने की घोषणा कर दी। आज उन्होंने कहा कि मुझे यहां घुटन महसूस हो रही है। देश हित से ऊपर कुछ नहीं है। पार्टी हित और देश हित में से एक (देश हित) को चुनने का वक्त आ गया है। यह कहते हुए उन्होंने सांसद पद छोड़ने की घोषणा कर दी।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले यह ममता बनर्जी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। इस्तीफे के बाद इस बात की अटकलें तेज हो गई हैं कि वह बीजेपी का दामन थाम सकते हैं। अपने इस्तीफे की घोषणा करते हुए दिनेश त्रिवेदी ने राज्यसभा में कहा कि हर मनुष्य के जीवन में एक घड़ी आती है, जब उसको उसकी अंतरआत्मा की आवाज सुनाई देती है।

उन्होंने कहा कि मेरे जीवन में भी ऐसी ही घड़ी आई थी। देश बड़ा है या पक्ष बड़ा है। आज जब देखते हैं कि जब देश की क्या परिस्थिति है। पूरी दुनिया भारत के तरफ देख रही है। राज्यसभा में उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से पश्चिम बंगाल में हिंसा हो रही है। मुझे बैठा-बैठा लगता है कि मैं करूं क्या? असल में हम जन्मभूमि के लिए ही हैं।

टीएमसी के ही एक सांसद सौगत राय ने कहा कि दिनेश त्रिवेदी के इस्तीफे से हम दुखी हैं। उन्होंने फैसला करने से पहले मुझसे बात नहीं की। हमें नहीं पता कि उन्होंने यह निर्णय क्यों लिया। इससे पहले शुभेंदु अधिकारी और राजीव बनर्जी जैसे मंत्रियों ने बंगाल में ममता बनर्जी का साथ छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया।

nextinformation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

ब्लास्टिंग से हिसार रोड पर गिरे भारी पत्थर,बाल-बाल बचे ग्रामीण

Fri Feb 12 , 2021
भिवानी । तोशाम के खानक गांव के पहाड़ पर खनन करने वाली कंपनियों द्वारा भारी ब्लास्टिंग करने पर तोशाम हिसार रोड पर पत्थर आकर गिरे. ग्रामीणों ने इसकी शिकायत सरपंच, एसडीएम व थाना अधिकारी से की. पत्थरों से बाल-बाल बचे लोग, ग्रामीणों ने की शिकायत  गांव के सरपंच रमेश कुमार ने […]
खानक गांव के पहाड़ पर भारी ब्लास्टिंग करने पर तोशाम हिसार रोड पर पत्थर आकर गिरे