देश की सबसे कम उम्र की पिंकी ने प्रोफेशनल ट्रैक्टर ड्राइवर बन बढ़ाया हरियाणा का गौरव

हरियाणा की पिंकी रानी देश की पहली सबसे कम उम्र की प्रोफेशनल ट्रैक्टर ड्राइवर बन गई है
हरियाणा की पिंकी रानी देश की पहली सबसे कम उम्र की प्रोफेशनल ट्रैक्टर ड्राइवर बन गई है

हिसार :-  हरियाणा की पिंकी रानी जिसकी उम्र अभी केवल 19 वर्ष है, वह देश की पहली सबसे कम उम्र की प्रोफेशनल ट्रैक्टर ड्राइवर बन गई है. आज से पहले पहले कई लड़कियों ने ट्रैक्टर चलाने के लिए प्रोफेशनल स्तर पर ट्रेनिंग ली है, किंतु उन सभी की उम्र हमेशा से ही 21 से 24 वर्ष के बीच रही थी, परंतु गांव की बेटी पिंकी रानी ने यह गौरव केवल 19 वर्ष की आयु में हासिल किया है.

ट्रेनिंग उत्तरी क्षेत्र कृषि मशीनरी प्रशिक्षण एवं परीक्षण संस्थान हिसार से ली गई

यहां हम आपको विशेष रूप से बता दे कि हिसार के गांव ढंढूर की रहने वाली पिंकी रानी ने यह ट्रेनिंग उत्तरी क्षेत्र कृषि मशीनरी प्रशिक्षण एवं परीक्षण संस्थान हिसार (टीटीसी) से हासिल की है. उसके ट्रेनिंग पूरा करने के बाद से और सभी महिलाओं के लिए प्रेरणा का एक जरिया बनने के लिए व सभी को एक नई दिशा दिखाने के लिए काफी संस्थाओं ने उन्हें एम बीते रविवार के दिन को सम्मानित भी किया है. ऐसे में हरियाणा के लिए यह बेहद ही ज्यादा गर्व की बात है

भव्य कार्यक्रमों का आयोजन कर किया गया सम्मान

पिंकी रानी के सम्मान में सातरोड़, ढंढूर व हिसार शहर के अलग -अलग स्थानों पर सम्मान समारोह के कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. साथ ही साथ उनके गांव में पंचायत की ओर से भी सम्मानित किया तो वहीं दुसरी ओर सामाजिक संस्था राह ग्रुप फाउंडेशन की ओर से भी उनके सम्मान में कोई कमी नहीं रखी गई और उनके द्वारा सम्मान करने के लिए अलग अलग स्थानों पर कार्यक्रमों का आयोजन किया गया.

गांव ढंढूर की रहने वाली पिंकी रानी सबसे छोटी

गांव ढंढूर की रहने वाली पिंकी रानी अपने घर पर मौजूद चार भाई व बहनों में सबसे छोटी है. साथ ही साथ सूत्रों ने बताया कि उनकी माता कौशल्या देवी पशु पालन विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के पद पर कार्यरत हैं. ढंढूर के सरपंच मनोज शर्मा ने संवाददाताओं से बातचीत के समय पर बताया है कि पिंकी रानी से पहले जम्मू- कश्मीर, पंजाब, राजस्थान, उत्तरप्रदेश व मध्यप्रदेश में लड़कियों ने ट्रैक्टर चलाने के लिए प्रोफेशनल स्तर पर ट्रेनिंग ली है, किन्तु उन सभी की उम्र हमेशा 21 से 24 वर्ष के बीच रही थी, परंतु ऐसा पहली बार हुआ है जब हमारे गांव की बेटी पिंकी रानी ने यह गौरव

nextinformation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

कैप्टन अंकित गुप्ता का शव मिला, तलहटी में पत्थरों के बीच फंसा था

Tue Jan 12 , 2021
जोधपुर :- शहर के तखतसागर जलाशय में छह दिन पहले डूबे सेना के कमांडो कैप्टन अंकित गुप्ता का शव आखिरकार मंगलवार दोपहर मिल गया। कैप्टन अंकित गुप्ता की खोज के लिए सेना ने देशभर से अपने विशेषज्ञों, गोताखोरों व कमांडो को बुला रखा था। छठे दिन दोपहर बाद उनका शव […]
6 दिन बाद सेना के कमांडो कैप्टन अंकित गुप्ता का शव मिल गया।