पलवल में 2 हजार किसानों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज..

वीडियो फुटेज से की जाएगी उपद्रवियों की पहचान, किसान नेताओं को पुलिस जारी कर रही नोटिस
वीडियो फुटेज से की जाएगी उपद्रवियों की पहचान, किसान नेताओं को पुलिस जारी कर रही नोटिस

फरीदाबाद/पलवल :- 26 जनवरी को सीकरी बॉर्डर पर ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद बुधवार को पुलिस ने 2 हजार से ज्यादा किसानों पर केस दर्ज किया है। पलवल की गदपुरी थाने में तैनात हेड कांस्टेबल दीपक कुमार की शिकायत पर हत्या के प्रयास समेत अन्य धाराओं में FIR दर्ज की गई है। अब उन किसानों की पहचान की जा रही है, जिन्होंने पुलिस पर ट्रैक्टर चढ़ाने का प्रयास और पथराव किया था।

SP पलवल दीपक गहलावत ने बताया कि वीडियो फुटेज के आधार पर उग्र प्रदर्शन करने वाले किसानों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पुलिस की कई टीमें बनाकर उपद्रव करने वालों की पहचान की जा रही है। उधर, फरीदाबाद के DC यशपाल यादव ने पूरे जिले में धारा 144 लागू कर दी है। किसी को भी हथियार लेकर चलने और पांच से ज्यादा व्यक्तियों के एक साथ एकत्र होने पर रोक लगा दी है।

पुलिस को निर्देश दिया गया है कि जो भी व्यक्ति धारा 144 का उल्लंघन करता है, उसके खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई की जाए। फरीदाबाद और पलवल की पुलिस लगातार संवेदनशील स्थानों पर नजर बनाए हुए है। पलवल में तो मंगलवार शाम से बुधवार शाम तक इंटरनेट की सेवाएं भी पूरी तरह से बंद रखी गईं, ताकि कोई शरारती तत्व सोशल साइट पर भड़काऊ पोस्ट आदि न डाल सके।

पुलिस का कहना है कि पलवल के किसान ट्रैक्टर लेकर फरीदाबाद की ओर चल दिए थे। सीकरी के पास पलवल और फरीदाबाद पुलिस ने कंटेनर और बेरिकेड लगा रखे थे, ताकि किसानों को रोका जा सके। ट्रैक्टर परेड जब बेरिकेड के पास पहुंची तो ट्रैक्टर चालकों ने रफ्तार तेज कर ली। पुलिस कर्मियों ने उन्हें आगे बढ़ने से रोकने का प्रयास किया तो किसानों ने उन पर ट्रैक्टर चढ़ाने का प्रयास किया। पलवल SP और बल्लभगढ़ के DCP समझाने लगे तो पत्थर बरसाने शुरू कर दिए।

nextinformation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

अब स्कूल फीस न देने वाले बच्चों को स्कूल नहीं देगा दाखिला..

Thu Jan 28 , 2021
अम्बाला । फेडरेशन ऑफ प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन की खंड बराड़ा इकाई की एक मीटिंग आदर्श सीनियर सेकेंडरी स्कूल, नहारा में आयोजित की गई. इस मीटिंग में कोरोना के चलते बच्चों की पढ़ाई को लेकर जरूरी विचार विमर्श किए गए. मीटिंग में की गई बच्चों को ट्रांसपोर्ट सुविधा देने की चर्चा साथी […]
स्कूल फीस डिफाल्टर बच्चों को एडमिशन नहीं देगा कोई भी दूसरा स्कूल